कवि राजेश ‘व्याकुल’

हिंदी साहित्य सेवा डॉट कॉम
साहित्यिक मंच – सेवा हिंदी साहित्य की
www.hindisahityaseva.com

जीवन परिचय: कवि राजेश “व्याकुल” जी का जन्म ९ जुलाई १९५० को मऊ चिरायल अलीगढ़ (वर्तमान जनपद हाथरस) उत्तरप्रदेश में हुआ था | इन्होने हिंदी में एम.ए. किया है और १९६२ से साहित्य क्षेत्र से जुड़े हैं | पेशे से शिक्षक है, और कई विधाओं (कहानी, लेख, कविता) में रचनाएँ लिखते हैं, इनकी प्रकशित कृतियाँ हैं सतवन्ती -सावित्री (खंडकाव्य), और उपन्यास मैंने दुनिया देखी है, इसके अलावा विभिन्न पत्र पत्रिकाओं में इनकी कविताएँ कहानियाँ प्रकाशित होती रहती हैं| अनंत प्रांतों के अखिल भारतीय मंचों द्वारा तथा १९७२ से आकाशवाणी/दूरदर्शन द्वारा काव्य रचनाएँ अनवरत प्रसारित होती हैं |

———————————————————–

——————————————————————————————————

————————————————————————————————————

One thought on “कवि राजेश ‘व्याकुल’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *